Oct 06

Poem – खुश हूं

image

Poem of positivity : । खुश हूं 😊

“जिंदगी है छोटी,” हर पल में खुश हूं
“काम में खुश हूं,” आराम में खुश हू 😊

“आज पनीर नहीं,” दाल में ही खुश हूं
“आज गाड़ी नहीं,” पैदल ही खुश हूं 😊

” अगर किसी का साथ नहीं,” तो अकेला ही खुश हूं ” . , . आज कोई नाराज है,”
उसके इस अंदाज से ही खुश हूं 😊

“जिस को देख नहीं सकता,”
☺उसकी आवाज से ही खुश हूं
“जिसको पा नहीं सकता,”.. .
उसको सोच कर ही खुश हूं 😊

“बीता हुआ कल जा चुका है,” उसकी मीठी याद में ही खुश हूं “😀 आने वाले कल
का पता नहीं,” इंतजार में ही खुश हूं😊

“हंसता हुआ बीत रहा है पल,” आज में ही खुश हूं
“जिंदगी है छोटी,” हर पल में खुश हूं 😊

“अगर दिल को छुआ, तो जवाब देना”
“वरना बिना जवाब के भी खुश हूं.😊😊

Permanent link to this article: http://zappmania.in/2015/10/06/poem-%e0%a4%96%e0%a5%81%e0%a4%b6-%e0%a4%b9%e0%a5%82%e0%a4%82.htm

Leave a Reply

Your email address will not be published.